Funny Jokes : इसको दुबारा से कैद करो ये अब्बा की आखरी निशानी है

     

Funny Jokes : इस पोस्ट में पढ़िए की जब एक बादशाह ने खुशी से सभी कैदी को रिहा कर दिया तो, उनमे से उसने एक बुजुर्ग कैदी को देखा और फिर क्या हुआ पढ़कर आप सभी हंसी के कारण लोटपोट हो जाएँगे |

► आजकल की भाग दोड़ की जिंदगी में कोई भी व्यक्ति न ही सही से अपने ऊपर समय दे पाता है और न ही किसी के साथ बैठ कर हंसी मजाक कर पाता है | बहुत से लोगो का ये भी मानना की जो व्यक्ति हस्ते रहता है वह हमेशा खुश रहता है, इसी कारण वह स्वस्थ और हमेशा सुखी भी रहते है | इसलिए आप सभी लोगो को हमेशा हस्ते रहना चाहिए और अपने साथ साथ यार दोस्तों को, परिवार वालो को भी हँसाना चाहिए। अपने साथ - साथ दुसरो का भी मन खुश रखना चाहिए | हँसने के लिए कोई पैसा नही लगता इसलिए आप हमारे मजेदार जोक्स भी पढ़ सकते है | हम रोज - रोज आप लोगो के लिए ऐसे ही Funny Jokes लेकर आते है | जिन्हें आप पढ़िए और मुस्कुराते रहिए और अपने साथ - साथ दुसरो को भी हंसाइये क्योंकि हँसना सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है और मन भी खुश रहता है |

 

 

हिंदी टेक्स्ट :

एक बार एक बादशाह ने खुशी

में सब कैदी को रिहा कर दिया....

उन कैदियों में से बादशाह ने

एक बुजुर्ग कैदी को देखा तो उसने

उस बुजुर्ग कैदी से पूछा...

की तुम कबसे कैद में हो ?

बुजुर्ग बोला : आप के अब्बा के दौर से...

यह सुनते ही बादशाह की आँखों

में आंसू आ गए और बोला की

“ इसको दुबारा से कैद करो,

ये अब्बा की आखरी निशानी है ” !!  

 

English Text :

Ek Baar Ek Badshah Ne Khusi

Me Sab Kaidi Ko Riha Kar Diya...

Un Kaidiyo Me Se Badshah Ne

Ek Bujurg Kaidi Ko dekha To Usne

Us Bujurg Kaidi Se Poocha...

Ki Tum Kabse Kaid Me Ho ?

Bujurg Bola : Aap Ke Abba Ke Daur Se

Yeh Sunte Hi Badshah Ki Aankhon

Me Aansu Aa Gaye Aur Bola Ki

" Isko Dubara Se Kaid Kro,

Ye Abba Ki Aakhari Nishani Hai " !!

 

हमारे साथ - साथ ये भी पढ़िए :

⇒ लड़के वालो ने कुंडली देखते ही शादी करने से करा मना

⇒ सब सुख लहे तुम्हारी सरना, तुम रक्षक काहू को डरना

⇒ अब पेप्सी की 2 लीटर की बोतल की तरह है

⇒ Happy Republic Day : 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस

⇒ इतने बड़े बनिए की जब आप खड़े हो जाये तो और कोई बैठा ना रहे

Related Jokes

Comment
Toal Comments  ( 0 )